Neuralink Chip Kya Hai – इसका मकसद व यह भविष्य कैसे बदलेगा।

जी हां आपने एक दम सही पढ़ा, सदी के सबसे क्रांतिकारी व्यक्ति Elon Musk जो कि Tesla एवम् SpaceX जैसी बड़ी कंपनियों के CEO भी हैं, वह और उनकी कंपनी Neuralink एक ऐसी Chip पे काम कर रही है, जो कि किसी इंसान के दिमाग में लगकर या फिर हम कह सकते है कि implant होकर, उसे अनेक कार्य जैसे अपने दिमाग से ही Computer व Mobile को बिना टच करें कंट्रोल करने, गाने सुनने, Games खेलने आदि कार्यों में मदद करेगी, इसके साथ ही यह Chip अनेक तरह की दिमाग से संबंधित बीमारियों को ठीक करने में भी अति महत्वपूर्ण साबित होगी।

तो चलिए जाने:-

  1. Neuralink का इतिहास
  2. Neuralink Chip की कुछ खास बाते
  3. Neuralink Chip हमारे शरीर में कैसे लगेगी
  4. Neuralink Chip कार्य कैसे करेगी
  5. Neuralink Chip से क्या-क्या काम हो सकते है
  6. किस किस पर Neuralink Chip के प्रयोग किये जा चुके है, व उनके परिणाम
  7. Neuralink Chip से संबंधित वाद-विवाद
  8. Neuralink Chip से होने वाले फायदे
  9. Neuralink Chip के दुष्प्रभाव व नुकसान
  10. Neuralink Chip के विषय मे हमारे विचार
  11. आपके सुझाव

1) Neuralink का इतिहास

Neuralink का इतिहास
Neuralink का इतिहास

इस कंपनी का निर्माण 2016 में Elon Musk व उनके कई सारे साथियो के द्वारा किया गया था, जो कि Neuroscience, Biochemistry और Robotics के experts का समूह था।

अप्रैल 2017, में Neuralink ने यह अनाउंस किया कि उनका लक्ष्य एक ऐसे उपकरण को बनाना है, जो की दिमाग से संबंदित बहुत सारी कठिन व जटिल बीमारियों के उपचार करने मे कारगर साबित होगा, व लोगो को निरोगी और सुखद जीवन देने मे योगदान करेगा।

Elon Musk को यह सुझाव विज्ञान कि एक कल्पना (Science Fiction) Neural lace, के द्वारा आया था, जिसमें किसी व्यक्ति की युवावस्था में, उसके दिमाग में एक छोटा सा कंप्यूटर लगा दिया जाता है जो कि उसकी उम्र के साथ-साथ बढ़ता रहता है।

2020 मे Neuralink का headquarter San Francisco Mission District मे स्थित किया गया था।

2) Neuralink Chip की कुछ खास बाते

Neuralink Chip की कुछ खास बाते
Neuralink Chip की कुछ खास बाते
  • Chip क़े Electrodes इंसान के बालों से भी पतले है।
  • Robot की मदद से electrodes दिमाग़ में डाले जायेंगे।
  • Chip मे 3000 से ज़्यादा Electrodes है।
  • N1 Sensor Chip में 96 धागे है।
  • यह Chip Wireless Technology से Charge होगी।
  • इसकी सहायता से दिमाग़ के डेटा को भी पढ़ सकते है।
  • इंसान के दिमाग़ के पीछे Coil भी लगेगी।
  • Coil से Charging, Data Transfer होगा।
  • Chip की सहायता से हाथ में पहने Computer पर डेटा आएगा।

3) Neuralink Chip हमारे शरीर में कहाँ और कैसे लगेगी?

Neuralink Chip हमारे शरीर में कहाँ और कैसे लगेगी?
Neuralink Chip हमारे शरीर में कहाँ और कैसे लगेगी?

Neuralink Chip हमारे शरीर यानि हमारे दिमाग मे कहाँ और कैसे लगेगी, इसे जानने से पहले हमे यह जानने कि आवश्यकता है कि, आखिर हमारा दिमाग काम किस तरह से करता है।

हमारा दिमाग एक बड़े कंप्यूटर की तरह काम करता है, यह हमारे पूरे बॉडी में से आने वाली सूचनाओं को Neurons के द्वारा इकट्ठा करता है, व इसकी प्रोसेसिंग करने के बाद, यह संदेश दोबारा बॉडी में भेजता है, और यह Neuralink Chip भी हमारे दिमाग मे, Neurons के कही बीच मे ही लगेगी।

और अगर बात करे कि यह Chip हमारे दिमाग मे कैसे लगेगी, तो यह Neuralink Chip रोबोटस कि सहायता से हमारे दिमाग मे लगेगी, क्योकि Neurons size मे बहुत छोटे-छोटे होते है जिनके बीच मे किसी Chip को लगाना अब तक इंसानो कि बस के बाहर ही है।

4) Neuralink Chip कार्य कैसे करेगी?

Neuralink Chip कार्य कैसे करेगी?
Neuralink Chip कार्य कैसे करेगी?

यह Chip एक सिक्के की तरह दिखती है, जिसके एक तरफ से हमारे बालो से भी बहुत पतले तार (electrodes) आते हैं, इसे ऐसे डिजाइन किया गया है कि, यह हमारे सिर में ठीक ढंग से लग सके, व Neurons के द्वारा आने वाले सिगनलस को अच्छे से catch करके, अन्य Neurons को सीधे-सीधे वही जानकारियां दे दे और इस connection को बरकरार रख सके, या फिर हमारे द्वारा ही कुछ परिवर्तन करके जानकारियां अन्य Neurons तक पहुँचाए।

5) Neuralink Chip से क्या-क्या काम हो सकते है?

Neuralink Chip से क्या-क्या काम हो सकते है?
Neuralink Chip से क्या-क्या काम हो सकते है?

क्या Neuralink Chip से Hormones को Control कर सकते हैं?

क्या Neuralink Chip से Hormones को Control कर सकते हैं?
क्या Neuralink Chip से Hormones को Control कर सकते हैं?

जी हाँ, इससे Hormones level को भी Control किया जा सकता हैं, क्योंकि इसके द्वारा हम हमारे Natural Connection में थोड़ा बदलाव लाकर एक Artificial तरीके से हमारे दिमाग का प्रयोग करने में सक्षम होंगे, तो हम हमारे Hormones Level को कुछ हद तक कंट्रोल भी कर सकेंगे, उदाहरण के लिए जैसे हमें गुस्सा आ रहा हो तो गुस्से के signals उसी route से जाएंगे जहां पर Neuralink Chip भी लगी हुई होगी, और हम उस Chip से आने-जाने वाले सिगनल्स को कंट्रोल कर सकते हैं जिससे हम उस गुस्से वाले Hormones पर काबू पा सकेंगे।

क्या Neuralink Chip से किसी बीमारी का पता लगा सकते है?

क्या Neuralink Chip से किसी बीमारी का पता लगा सकते है?
क्या Neuralink Chip से किसी बीमारी का पता लगा सकते है?

जी हाँ, इस Chip की सहायता से कई सारी बीमारियों का पता लगाया जा सकता है, क्योंकि यह Chip Artificial Intelligence का एक बहुत ही अच्छा उदाहरण है, और अगर एक Neuron से दूसरे Neurons में जाने वाले Signals मे यदि किसी भी तरह का बदलाव व कमी आती है, तो यह Chip हमें सूचित कर देगी कि हमारे शरीर में कुछ तो गड़बड़ है या कुछ बीमारी है।

Neuralink Chip से Smartphone पर मिलेगी जानकारी

Neuralink Chip से Smartphone पर मिलेगी जानकारी
Neuralink Chip से Smartphone पर मिलेगी जानकारी

यह Chip Wireless Connection के द्वारा Smartphone व अन्य Smart Gadgets से Connect हो पायेगी और कई सारे Neurons के द्वारा आने वाली जानकारियों को हमारे Device में दिखा पाएगी।

क्या Neuralink Chip को iPhone से Control किया जा सकता है?

क्या Neuralink Chip को iPhone से Control किया जा सकता है?
क्या Neuralink Chip को iPhone से Control किया जा सकता है?

जी हाँ, ऐसा भी संभव है कि इस Chip को iPhone के द्वारा Control किया जा सके, अगर Experts की माने तो iPhone Android की तुलना में अधिक Secure है, तो Elon Musk कि यह कंपनी Neuralink ऐसा एक App बना सकती है जिससे इस Chip को कंट्रोल किया जा सके व कहीं लोगों का यह भी मानना है कि यह सुविधा Android Users के लिए भी आ सकती है।

Neuralink Chip से अब सीधा दिमाग में बजेंगे गाने

Neuralink Chip से अब सीधा दिमाग में बजेंगे गाने
Neuralink Chip से अब सीधा दिमाग में बजेंगे गाने

हमारे Devices से Wireless Connectivity के द्वारा गाने सीधा Neuralink Chip मे जायेंगे, वह उसको Signals में Convert करके अन्य Neurons के द्वारा हमारे दिमाग तक पहुंचाएगा, फिर दिमाग जब इसको Process करेगा तो उसको लगेगा कि हम गाने सुन रहे है, जबकि कानों के द्वारा ऐसा कुछ भी नहीं हो रहा होगा।

क्या Neuralink Chip से दिमाग का Backup लिया जा सकता है?

क्या Neuralink Chip से दिमाग का Backup लिया जा सकता है?
क्या Neuralink Chip से दिमाग का Backup लिया जा सकता है?

जी हाँ, इस Chip के माध्यम से दिमाग का Backup लिया जा सकता है, उदाहरण के लिए जैसे हम किसी जानकारी को याद रखना चाहते हैं, और उसे किसी भी किमत पे भूलना नहीं चाहते, तो हम Neuralink Chip के द्वारा उस जानकारी का Backup हमारे Smartphone या किसी भी Gadget मे लेकर रख सकते हैं।

6) किस-किस पर Neuralink Chip के प्रयोग किये जा चुके है व उनके परिणाम क्या रहे?

कंपनी द्वारा दिखाए गए प्रजेंटेशन के मुताबित, कंपनी ने इस चिप का प्रयोग 19 अलग-अलग जानवरों पर किया है, जिनकी सफलता की दर 87 फीसदी रही है।

इन सभी प्रयोगों में से दो प्रयोग सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण रहे, जिनमें से एक प्रयोग Monkey पे किया गया और दूसरा 3 Pig’s पे किया गया।

Neuralink Chip लगाकर Pig’s पे किया गया प्रयोग

Neuralink Chip लगाकर Pig's पे किया गया प्रयोग
Neuralink Chip लगाकर Pig’s पे किया गया प्रयोग

तीन में से पहले Pig Joyce में Chip नही लगाई गयी थी, इसको इस टेस्ट में इसलिए रखा गया था जिससे एक साधारण Pig का Comparison Chip लगे हुए Pigs के साथ किया जा सके।

दूसरे Pig Dorothy में Chip लगाकर निकाल दी गई थी, जिससे यह संतुष्टि मिल सके कि जब यह Chip इंसानों में लगेगी, तो इसको लगाकर दोबारा वापस भी निकाला जा सके।

और तीसरे Pig Gertrude में 2 महीने तक Chip लगाकर रखी गई थी, और इस Pig में कई प्रकार की Neural Activities देखी गई, जब इस Pig को कुछ खिलाया पिलाया गया तो, यह Chip उसकी सारी Activities ट्रैक करके Graph पर शो कर रही थी, और जब वह खाना ढूंढ रही थी तो उसके दिमाग के अंदर का Processor Wireless Signals के through उसकी Neurals Activities बता रहा था।

जब इस Pig के चलने का निरीक्षण करने के लिए इसको ट्रेडमिल पर चलाया गया तब, Experts व Scientist ने यह जाना की, इसके ठीक ढंग से खड़े रहने के Comparison में इसके अंग किस तरह से काम करते हैं जब यह चलती है।

बंदर (Monkey) ने Neuralink Chip लगने के बाद खेला अपने दिमाग से Video Game

बंदर ने Neuralink Chip लगने के बाद खेला अपने दिमाग से Video Game
बंदर ने Neuralink Chip लगने के बाद खेला अपने दिमाग से Video Game

कंपनी के द्वारा एक वायरल वीडियो के अनुसार यह पाया गया कि, एक Macaque Monkey अपने Brain से, एक वीडियो गेम Ping Pong खेल रहा है, जिसमे Neuralink Chip उसे खेलने में मदद कर रही थी, तो इससे यह भी पता चलता है कि जब यह Chip, इंसानों में लगेगी तो वह अपने दिमाग से ही बिना Screen Touch करे Games खेल सकते है।

7) Neuralink Chip से होने वाले वाद-विवाद

Neuralink Chip से होने वाले वाद-विवाद
Neuralink Chip से होने वाले वाद-विवाद

Max Hodak, जो कि Neuralink Company के Co-Founder भी रहे हैं, उन्होंने 2 May 2021 को Social Media के जरिए यह कहा कि वह कुछ हफ़्तो पहले Neuralink कंपनी को छोड़ चुके हैं, उन्होंने इसका कारण तो स्पष्ट नहीं किया पर एकदम से ऐसे कंपनी छोड़ देना भी विचार का विषय है।

Anna Wexler, जो कि एक Medical Ethics और Health Policy कि प्रोफेसर है, University of Pennsylvania मे इनका मानना है कि, न्यूरोसाइंस अभी इंसानो कि पकड़ से काफी दूर है, केवल कुछ Signals को Decode करने से इंसान पूर्ण रूप से अपने दिमाग को नहीं जान पाएगा।

कई Experts का मानना है कि बंदर पर किया गया यह Experiment इतना अधिक क्रांतिकारी भी नहीं है, क्योंकि सन 2002 में Business Insider की Reports के अनुसार एक Researchers के समूह ने इसी तरह का Experiment एक बंदर पर भी किया था, जिसमें वह बंदर कंप्यूटर में कर्सर को हिलाता हुआ दिखाई दिया था, जब उसकी Neurons की Activities को decode किया गया, तब यह पाया गया कि Neuralink Chip व इसके Signals कि Decording काफी हद तक समान है।

जानवरों की सुरक्षा हेतु PETA ( People For Ethical Treatment Of Animals) ने Elon Musk की Company Neuralink पर विरोध प्रकट किया कि जानवरों पर इस तरह का Experiment नहीं किया जाना चाहिए।

कुछ Researchers जैसे John Krakauer ने कहा कि Elon Musk का यह सपना सच्चाई से काफ़ी परे है, जो हम यह डिवाइस देख रहे हैं वह एक सिंगल Sensorimotor Area के उपर लगेगा, जब हमें मूवमेंट को छोड़कर भावनाओं को जानना होगा तो यह Chip कहाँ पर लगेगी? इंसान को कितनी Chip लगाने की जरूरत पड़ेगी? इससे सिर की त्वचा (खोपड़ी) को कैसे बचाया जाएगा?

8) Neuralink Chip से होने वाले फायदे

Neuralink Chip से होने वाले फायदे
Neuralink Chip से होने वाले फायदे

Neuralink Chip से निम्नलिखित बीमारियों व परेशानियो का इलाज किया जा सकता है:-

  1. Alzheimer’s – एक ऐसी बीमारी जो हमारी बुद्धि व अन्य महत्वपूर्ण मानसिक कार्यों को नष्ट कर देती है।
  2. Parkinson’s – Central Nervous System की एक ऐसी अव्यवस्था जो हमारे Movement को affect करता है, व इससे हमारा शरीर भी कांपने लगता है।
  3. Dementia – हमारी सोच के कुछ ऐसे लक्षण जो हमारे दैनिक कामकाज में हस्तक्षेप (कीड़े) करता है।
  4. Spinal Cord Injuries – रीड की हड्डी से संबंधित समस्याएं।
  5. Memory Loss – भूलने की बीमारी।
  6. Hearing Loss – सुनने की बीमारी।
  7. Blindness – आँखो से देखने की समस्या।
  8. Paralysis – शरीर के अंगों की ना हिलने की समस्या।
  9. Depression – उदासिपन, शक्तिहीनता।
  10. Insomnia – लगातार गिरने और सोते रहने की समस्या।
  11. Extreme Pain – काफी तेज दर्द।
  12. Seizure – Neurons व Nerve Cells के बीच मे Electrical Signals कि गड़बड़ी होना।
  13. Anxiety – बेचैनी के साथ नकारात्मक विचार, चिंता और डर का आभास होना।
  14. Addiction – बुरी लत।
  15. Strokes – Blood Supply की कमी से Brain Damage हो जाना।
  16. Brain Damage – दिमाग का खराब होना।

इंसानों का अस्तित्व बनाए रखना

भविष्य मे Robots Vs Humans कि लडाई
भविष्य मे Robots Vs Humans कि लडाई

हम सभी जानते हैं कि धीरे-धीरे Artificial Intelligence (AI) कितना Powerful होता जा रहा है, और भविष्य में यह इंसानों के लिए एक बहुत बड़ा खतरा भी साबित हो सकता है, तो Elon Musk व उनकी कंपनी Neuralink का इस Chip को बनाने के पीछे यही उद्देश्य है कि, इंसान भी Artificial Intelligence की तरह अधिक Powerful हो सके और भविष्य में इंसान Vs Robots का यदि कोई युद्ध होता है तो खुद को कमजोर व अभागा महसूस न करे।

स्कूलों व कॉलेजों के एजुकेशन सिस्टम से मिलेगी राहत

स्कूलों व कॉलेजों के एजुकेशन सिस्टम से मिलेगी राहत
स्कूलों व कॉलेजों के एजुकेशन सिस्टम से मिलेगी राहत

एक छात्र अपनी जिंदगी का काफी हिस्सा स्कूल व कॉलेजों में मिलने वाली पढ़ाई पर देता है, लगभग यह 20 से 25 सालों का ज्ञान इस Chip के माध्यम से छात्र मात्र कुछ ही समय में ही ले लेगा, जिससे आगे के होने वाले Researches व Development की गति भी काफी बढ़ जाएगी।

9) Neuralink Chip के दुष्प्रभाव व नुकसान

क्या होगा अगर Neuralink Chip Hack हो जाएगी तो?

क्या होगा अगर Neuralink Chip Hack हो जाएगी तो?
क्या होगा अगर Neuralink Chip Hack हो जाएगी तो?

Hacking का खतरा Neuralink Chip के लिए एक बहुत ही बड़ा खतरा बना हुआ है, अगर अभी के समय की मानें तो Hackers ने ऐसी-ऐसी चीजें तक Hack कर रखी है जो एक आम आदमी सोच भी नहीं सकता, तो भला यह Chip किस खेत की मूली है, अगर यह Chip किसी भी इंसान में लगी हुई हो और अगर Hacker उसे Hack कर लेता है तो Hacker उस व्यक्ति का मास्टर बन जाएगा और जो चाहे उससे करवा पाएगा।

Neuralink Chip के दिमाग में लगने से होने वाले दुष्प्रभाव

Neuralink Chip के दिमाग में लगने से होने वाले दुष्प्रभाव
Neuralink Chip के दिमाग में लगने से होने वाले दुष्प्रभाव

जब यह Chip हमारे दिमाग में लगेगी तो हो सकता है कि, इससे Bleeding व किसी भी तरह का Infection फैले, क्योंकि यह मामला हमारे दिमाग का है तो इससे हमारे शरीर को काफी नुकसान पहुँचने कि पूरी-पूरी संभावनाएं हैं।

Brain Damage होने का खतरा

Brain Damage होने का खतरा
Brain Damage होने का खतरा

इस Chip के दिमाग में लगने से इंसान सभी चीजों को जल्द से जल्द Memorise करने में सक्षम हो जाएगा, परंतु जब इंसानी दिमाग इन सभी Data को जल्दी-जल्दी प्रोसेस करेगा तो उस पर काफी असर पड़ेगा, जिससे ब्रेन डैमेज तक होने का खतरा बन जाएगा, साथ ही यह Chip भी एक नेचुरल तरीके से ना होकर आर्टिफिशियल तरीके से हमारे अंदर implant होगी, तो हो सकता है इसके भी Overuse होने से यह गर्म होकर हमारे दिमाग पर गहरा असर डाले।

Biological Brain की क्षमताओं का घटना

Biological Brain की क्षमताओं का घटना
Biological Brain की क्षमताओं का घटना

इस चिप का एक गहरा असर हमारे Normal Brain या हमारे Biological Brain पर भी काफी पड़ेगा, क्योंकि इस Chip कि मदद से हमें Knowledge व जानकारियां काफी आसानी से मिल जाएगी तो हमें हमारे Normal Brain का ज्यादा use नही करना पड़ेगा, जिससे धीरे-धीरे उसकी क्षमताएं भी कम होती जाएंगी।

इंसान का एकांत होना वह माइंड का बार-बार डाइवर्ट होना

इंसान का एकांत होना वह माइंड का बार-बार डाइवर्ट होना
इंसान का एकांत होना वह माइंड का बार-बार डाइवर्ट होना

आजकल इंसान स्मार्टफोन की वजह से धीरे-धीरे अपने प्रिय जनों से दूर होता जा रहा है, इसी तरह धीरे-धीरे जब यह Chip भी Advance होती जाएगी तो यह Chip एक Brain Phone की तरह काम करेगी, जो कि इंसानो के साथ 24×7 रहेगी, इसकी वजह से इंसान का दिमाग एक जगह पर एकत्रित नही हो पाएगा जिससे हमे काफी सारी दुर्घटनाओं व अव्यवस्था का सामना करना पड़ सकता है, उदाहरण के लिए अगर किसी बच्चे को गेम खेलने की लत है और उसके अंदर यह Chip भी लगी हुई है तो चाहे वह कोई भी काम कर रहा हो लेकिन, उसके साथ-साथ वह गेम भी खेल सकता है जिससे उसके दिमाग पर एक गहरा असर पड़ सकता है।

10) Neuralink Chip के विषय मे हमारे विचार

Neuralink Chip के विषय मे हमारे विचार
Neuralink Chip के विषय मे हमारे विचार

हमने जब इस Topic Neuralink पर गहराई से Reseach स्टार्ट किया तो पाया कि इसके कई सारे फायदे व नुकसान हैं, तो हम इस नतीजे पर पहुंचे कि इसको अगर ठीक ढंग से प्रयोग में लिया जाए तो यह हम इंसानो के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है, और आने वाले समय में AI के खिलाफ भी हमें लड़ने में ताकत प्रदान कर सकता है, और अगर नुकसान की बात करें तो इसका Hack होना व दिमाग पर बुरा प्रभाव डालना इंसानी जीवन को बहुत दर्दनाक बना सकता है, हम Elon Musk कि कंपनी Neuralink के साथ है अगर ये Chip की ठीक ढंग से रिसर्च व लोगों में implant कर पाते हैं, साथ ही इसके दुष्प्रभाव पर भी ध्यान देते हैं तो कोई माई का लाल इनका कुछ नहीं बिगाड़ सकता।

11) आपके सुझाव

Neuralink Chip के बारे मे आप क्या सोचते हो
Neuralink Chip पे आपके विचार

Neuralink Chip के बारे मे आपके क्या विचार है, हमे नीचे Comment करके बताए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.